Skip to main content

जानिए THUGS of HINDOSTAN की पूरी कहानी

दिवाली पर आने वाली फिल्म "ठग्स ऑफ हिंदुस्तान" का हम सभी को बेसब्री से इंतजार है इस फिल्म की कहानी 1839 में लिखी हुई एक किताब कन्फेशन ऑफ ठग्स पर आधारित है। आज इस आर्टिकल में मैं आपको ठगों के असली कहानी के बारे में बताऊंगा।
जानिए THUGS of HINDOSTAN की पूरी कहानी
ठग एक हत्यारी जनजाति को नाम दिया गया जो कि अपना वजूद मां काली के पसीने से जुड़ा हुआ बताते हैं। ठगो में कहे जाने वाले एक लोककथा के अनुसार जब मां काली रक्तबीज नामक राक्षस से युद्ध कर रही थी तब उस राक्षस रक्तबीज के हर एक खून के बूंद से एक नया हूबहू राक्षस का रूप बन जाता था। यानी जितना ज्यादा राक्षस का खून बहता था उतने और राक्षस पैदा हो जाते थे। इससे मां काली की कठिनाइयां बढ़ने लगी। तो इसका समाधान करने के लिए मां काली ने तब अपने पसीने से दो इंसानो को बनाया जिसको उन्होंने रुमाल जैसा एक कपड़ा दिया जिसकी मदद से वह राक्षस का गला घोट के हत्या कर सके।

ठग उन्हीं दो इंसानों को अपना पूर्वज मानते थे और इसी को अपना धर्म मान लिया था। दिल्ली से जबलपुर के रास्तों के आसपास ठगों का खौफ बहुत ज्यादा था उनकी बातें हर जगह हुआ करती थी जिसका वजह था की वह बिना एक बूंद खून बहाए लोगों को मार देते थे। उनके मारने का तरीका उनके पूर्वजों जैसा था। वह एक रुमाल से किसी इंसान की गला घोट देते थे और उस इंसान को तब तक नहीं छोड़ते थे जब तक वह दम ना तोड़ दे और उसके बाद वह उसका सारा सामान लूट लेते थे। वे उन हत्याओं को मां काली का दिया हुआ बलिदान मानते थे। मरने के बाद उनके घुटने और हड्डियों को तोड़कर उसी के शरीर में बांध देते थे ताकि वह छोटी सी जगह में दफन हो सके। वे सभी काम कितनी सफाई से कैसे करते थे कि किसी को पता नहीं लगता था कि इंसान गायब कहां हुआ। उनके हिसाब से वह मां काली को बलिदान दे रहे थे पर वे उनका काम बन गया था और वह धर्म के नाम पर अपना पेट भरते थे।

ब्रिटिश राज्य के समय जब कई राजाओं ने अपना सर अंग्रेजों के आगे झुका दिया था तब ठग्स डटे रहे और अंग्रेजो की हत्या करनी शुरू कर दी। कई बार तो वे अंग्रेजी सेनाओं के कई जवानों को वे एक ही बार में साफ कर दिया करते थे। वे ठग्स और फांसिगर्स नाम से जानने जाने लगे। 17 वी सदी में कई अंग्रेजों की टोलियां रातों रात गायब हो जाया करती थी सिर्फ इन ठगो के कारण। ठगो का समूह 500 वर्षों तक चला। ठगो ने एक वर्ष में ही 40000 लोगों को मारा गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी लिखा गया है।
वैसे तो ठग बहुत ही बेरहम थे पर वे बच्चों को नहीं मारते थे बल्कि वे उन्हें अपने साथ शामिल कर लेते थे जो कि आगे चलकर ठग ही बनते थे। 20 वीं सदी में जब अंग्रेजों की हत्या काफी ज्यादा बढ़ गई तब अंग्रेजों को पता लगा कि इन हत्याओं के पीछे ठगों का हाथ है पता होने के बाद भी वह उनका कुछ नहीं बिगाड़ पाए क्योंकि उनका वजूद का सबूत ही नहीं मिलता था। ठग बैहराम जमादार जो कि ब्रिटिश राज्य के समय ठगो का लीडर हुआ करता था उसने अकेले ही 931 हत्याएं करी और वे आज तक के सबसे खतरनाक सीरियल किलर में शामिल है। ठग बैहराम जमादार की वजह से अंग्रेजों की समस्या बहुत ज्यादा बढ़ गई। अंग्रेजों ने विलियम हेनरी स्लीमन को ठगों को पकड़ने के लिए चुना, विलियम स्लीमन ने इस काम को अपने जिंदगी का लक्ष्य बना लिया। स्लीमन ने कई ऐसे ऑपरेशन चलाया है जिससे उसने ठगों को पकड़ने लगा इसी बीच कई ठगों ने अपने समूह से गद्दारी की और उसने अंग्रेजों को ठगों का ठिकाना बताना शुरू कर दिया।

1839 के बाद करीब 1400 ठगो को फांसी दी गई इसके बाद ठगो के सरदार है बैहराम जमादार को भी पकड़ लिया गया और पेड़ से लटका कर फांसी दे दी गई। बैहराम के मृत्यु के बाद हत्याएं कम होने लगी और ठगो का समूह खत्म होने लगा और समय के साथ साथ ठग का एक इतिहास बनकर रह गया। इसमें ना ब्रिटिश शासक अच्छे थे और ना ही ठग क्योंकि दोनों से आम जनता को भारी नुकसान होता था।

तो आपको हमारी आर्टिकल कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं। और यदि आप हमारे नए आर्टिकल का नोटिफिकेशन पाना चाहते हैं तो नीचे फ़ॉलो के पास अपना ईमेल आईडी डालकर सबमिट कर दें जिससे मेरे नए पोस्ट का नोटिफिकेशन आपको ई-मेल द्वारा प्राप्त हो जाएगा धन्यवाद।

Note: This article is based on internet research and thus may not be 100% true

Comments

Popular posts from this blog

I Got 2 strike

दोस्तो कल मैंने वेब सीरीज गंदी बात और गंदी बात 2 का लिंक अपने वीडियो में डाल के पब्लिश किया था। जिसकी वजह से आज यूटयूब वालो ने मुझे 2 स्ट्राइक कॉपी राइट और कम्युनिटी गाइडलाइन का स्ट्राइक दे दिया जैसा की मैंने अपने यूट्यूब वीडियो में आपको बताया था।

मैंने उन सभी वीडियो को डिलीट किया हुआ है ताकि मेरा यूट्यूब चैनल बंद ना हो सके।

आप को अगर वो वेब सीरीज देखना है तो नीचे लिंक  दे रहा हूं देख लेना।

और साथ भी यूट्यूब चैनलों को भी सब्सक्राइब कर देना। अब से इस तरह का वीडियो को डायरेक्ट पब्लिक नहीं करूंगा। आप बस बने रहना साथ में और क्या देखना है वो कॉमेंट कर देना मेरे यूट्यूब चैनल के लेटेस्ट विडियो पर, और सब्सक्राइब तो जरूर कर देना। ताकि नया अपडेट दे सकूं।

ALT BALAJI के सबसे गंदे वेब सीरीज

गन्दी बात वीडियो लिंक

SE01 EPISODE 01 -  REMOVE
SE01 EPISODE 02 - देखिए
SE01 EPISODE 03 - REMOVE
SE01 EPISODE 04 - REMOVE

भाईयो मेरे सभी वीडियो को यूट्यूब वालो ने रिमूव कर दिया।
अब मैं इसका डायरेक्ट डाउनलोड लिंक दूंगा। बस थोड़ा सा समय दे दो ।

गंदी बात -2 वीडियो लिंक

SE02 EPISODE 01 - REMOVE
SE02 EPISODE 02 - R…

Indonesia Tsunami: सुनामी से आई तबाही

Indonesia Tsunami: सुनामी से आई तबाही, अब तक 222 की मौत; 843 से अधिक घायल

कैरिटा, एएफपी। इंडोनेशिया में ज्वालामुखी फटने के कारण आई सुनामी से 222 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों अन्य घायल हो गए। इंडोनेशिया की सुंडा जलसंधि के तट पर स्थानीय समयानुसार शनिवार रात 9:30 बजे सुनामी ने दस्तक दी। यह सुनामी क्रैकाटोआ की संतान कहे जाने वाले एक ज्वालामुखी में विस्फोट के कारण आई। वैज्ञानिकों के अनुसार, इस द्वीप का निर्माण क्रैकटो ज्‍वालामुखी के लावा से हुआ है। इस ज्‍वालामुखी में आखिरी बार अक्‍टूबर में विस्‍फोट हुआ था।

अधिकारियों ने बताया कि ज्वालामुखी विस्फोट के कारण सुनामी आने की घटनाएं बहुत कम होती हैं। भूकंप के कारण आने वाली सुनामी से इतर इस तरह की सुनामी में लोगों को सतर्क करने का कोई मौका नहीं मिलता है। राष्ट्रीय आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो नुग्रोहो ने बताया कि ज्वालामुखी फटने के कारण समुद्र के नीचे सतह में हलचल हुई। पूर्णिमा की रात होने के कारण उठ रही ऊंची लहरों के साथ मिलकर यह हलचल बड़ी तबाही का कारण बन गई।

सैकड़ों इमारतें धराशायी
राहत और बचाव कार्य में लगे अधिकारियों ने बताया कि आपदा में …

पीरियड्स के समय संबंध बनाने से पहले एक बार जरूर जान ले

एक लड़की के लिए मां बनना सबसे बड़े गौरव की बात होती है. एक लड़की जब मां बनती है, तो उसकी खुशी का कोई अंदाजा नहीं होता है. लेकिन मां बनने के लिए हर लड़की में पीरियड्स का आना काफी जरूरी होता है। पीरियड्स के दौरान लड़कियों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

मासिक धर्म का समय तीन-चार दिन का होता है और इन दिनों में लड़कियों की दिनचर्या और उनके व्यवहार में अनेक उतार-चढ़ाव होते रहते हैं। पीरियड्स के समय लड़कियों को बेहद तेज दर्द का भी सामना करना पड़ता है। पीरियड्स के दौरान लड़कियों को शारीरिक संबंध बनाते वक्त तीन बातों का हमेशा ध्यान रखना चाहिए। लेकिन कई सारे लोगों को नहीं पता होता है की वो 3 बातें कौन सी है. इसीलिए आज हम आपको बताने जा रहे है की लड़कियों को पीरियड्स के दौरान संबंध बनाते समय कौन सी बातें ध्यान रखना चाहिये।

मासिक धर्म के समय संबंध बनाते से लड़की के शरीर से एन्डोरफिंस नामक हार्मोन स्रावित होते हैं। जो पीरियड्स के दर्द और स्ट्रेस को कम करने में मददगार होता है। लेकिन ध्यान रहे की पीरियड्स के समय ज़्यादा संबंध बनाने स लड़कियों की समस्या बढ़ भी सकती है. इसीलिए बिना लड…